2021 में SEO Freindly ब्लॉग पोस्ट कैसे लिखे?

अगर आप ब्लॉगिंग करते हैं या आपकी कोई वेबसाइट है जिस पर आप पोस्ट डालते हैं तो आपने अक्सर देखा होगा कि आपका वेबसाइट या ब्लॉग का कोई-कोई आर्टिकल सर्च इंजन में ठीक से रैक नहीं करता और वह इसलिए होता है कि आप SEO फ्रेंडली ब्लॉग पोस्ट या article नहीं लिखते हैं इससे गूगल या दूसरे सर्च इंजन आपके ब्लॉग पोस्ट की रैंकिंग को नीचेेेेे कर देता है ऐसे में आपको SEO Freindly Article लिखना आना चाहिए,तो आज के इस आर्टिकल हम लोग यही जानेंगे कि आप अपने blog के लिए SEO Optimized Blog Post कैसे लिख सकते हैं,तो नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका Mrskt.com हिंदी ब्लॉग में।

SEO Freindly Article Kaise Likhe
SEO Freindly Article Kaise Likhe

SEO freindly आर्टिकल कैसे लिखें?

SEO freindly ब्लॉग पोस्ट या आर्टिकल लिखने का सीधा मतलब यह है कि आप सर्च इंजन को बता रहे हैं की आपका Content किस Queries या Questions का जवाब दे रहा है या किस Topic पर लिखा गया हैै। इससे सर्च इंजन आपके पोस्ट के कंटेंट से रिलेटेड कीवर्ड्स पर रैंक कराएगा जिससे आपकी पोस्ट की रैंकिंग अच्छी होगी और आपके ब्लॉग के विजिटर (Readers) बढ़ जायेंगे। SEO freindly पोस्ट लिखने के लिए नीचे कुछ तरीके बताए गए हैं तो आप उन्हें follow कर लीजिए।

1. एक आकर्षक h1 (Post Title) बनाएँ।

कभी-कभी आपने देखा होगा कि आपका पोस्ट 1st पेज पर और #1 पर रैंक कर जाता है फिर भी आपको अपने WebMaster (जैसे.Google Search Console, Bing webmaster, Yandex Webmaster, इत्यादि।) के dashboard CTR (Click Through Rate) बहुत ही कम देखने को मिलता हैै ये इसलिए होता है क्योंकि आप अपने पोस्ट के Title को ठीक तरीके से नहीं लिखते हैं। इसीलिए हमेशा कोशिश करेंं पोस्ट का title (h1) आकर्षक और पढ़ने योग्य हो।

2. अपने Article के Url को पढ़ने योग्य रखें। 

“a” “an” “the”और कई अन्य जैसे शब्द जो यहां सूचीबद् हैं,उन्हें खोज इंजन द्वारा अनदेखा किया गया है।

हमारे पोस्ट टाइटल में आमतौर पर बहुत सारे स्टॉप शब्द होते हैं।

उदाहरण के लिए, जब हम शीर्षक के साथ एक पोस्ट लिखते हैं:

  • Paragraph indexing ya Passage Indexing kya hai

डिफ़ॉल्ट रूप से हमारा पोस्ट पर्मलिंक होगा:

  • example.com/paragraph-indexing-ya-passage-indexing-kya-hai.html

<“ya (or)” उपरोक्त उदाहरण के शब्द हैं।

आप Edit Permalink पर क्लिक कर सकते हैं और Permalink को “passage-indexing-kya-hai” इस प्रकार स्टॉप शब्दों को समाप्त कर सकते हैं और आपको ये ध्यान रखना है की आपका Focused keyword उस permalink में हो और वो पठनीय (Readable ) हो ।

आर्टिकल लिखते समय अगर आप कोई ऐसा वाक्य या पैराग्राफ लिखते हैं जिसमे आपके आर्टिकल के topic से मिलता-जुलता कोई keyword लिखते हैं तो उसे Bold,Italic or Underline करें जो आपके आर्टिकल को थोड़ा और बेहतर बना सकता है और ये बात धयन रखें कि आप अधिक मात्रा में ये चीज़ न करें नही तो इससे आपकी रैंकिंग पर प्रभाव पड़ेगा।

4. पिछली आर्टिकल से लिंक करें।

मान लीजिए कि आपका लेख विषय है “Passage Indexing Kya Hai?” और इस आर्टिकल का मुख्य विषय SEO है तो आप उसमें SEO से समन्धित अन्य पोस्ट को भी लिंक दे सकते हैं।

5. Keywords Research करें।

ब्लॉग पोस्ट लिखने से पहले कोई एक अच्छा सा keyword को ढूंढे जिस कीवर्ड या क्वेरीज के बारे में आप अच्छे से जानते हैं और जिन्हें आप अपने कॉम्पिटिटर से अच्छा लिख सकते हैं ऐसे कीवर्ड को ढूंढे और उसपे और उससे सम्बन्धित कीवर्ड पर अपने आर्टिकल में लिखें। 

6. Images को Optimize करें। 

SEO Freindly कंटेंट लिखने के लिए Image को भी optimize करना बहुत ज़रूरी है और निचे दिए तरीको से आप अपने आर्टिकल में इस्तेमाल किये गए Images को Optimize कर सकते हैं |

1. Image को compress करें।

Image का फाइल साइज अगर आप कम नहीं करते हैं तो आपका आर्टिकल का loading speed कम हो जायेगा जिससे आपकी आर्टिकल की रैंकिंग पर प्रभाव पड़ेगा साथ ही साथ आपका site का bounce back रेट भी बढ़ेगा इसीलिए हमेशा compressed images का प्रयोग करें। 

2. Image में Alt टैग कर प्रयोग करें। 

Image में आपको alt tag का प्रयोग करना चाहिए इससे आपका Image भी seo freindly हो जायेगा। मान लीजिये की आपने image के alt टैग में “पैसेज इंडेक्सिंग क्या है ” लिखा है तो अब अगर कोई User Google Image में “पैसेज इंडेक्सिंग क्या है” सर्च करेगा  आपका इमेज भी वहां दिखेगा। 

7. Outbond लिंकिंग करें। 

अगर आपके आर्टिकल का टॉपिक SEO है तो आपने अगर अपने आर्टिकल के किसी पैराग्राफ में SEO शब्द का इस्तेमाल किया है तो उस शब्द में wikipedia जैसे हाई क्वालिटी साइट का लिंक दे जैसे की “SEO किसी वेबसाइट को रैंक करवा सकता है। “

आप देख सकते ऊपर मैंने “SEO” शब्द में Outbond Linking किया है।

8. Paragraph और Heading सही रखें।

हर कोई पैराग्राफ का उपयोग करता है, लेकिन हर कोई उन्हें अच्छी तरह से उपयोग नहीं करता है। प्रत्येक नई वाक्य को एक नई लाइन पर शुरू न करें, सिर्फ इसलिए कि यह अच्छा लग रहा है। इसके अलावा, उन्हें बहुत लंबा न बनाने की कोशिश करें, क्योंकि प्रत्येक पैराग्राफ का अपना विचार या विषय होना चाहिए। अपने आप से पूछें कि प्रत्येक पैराग्राफ का मुख्य विचार क्या है। आपको उस मुख्य विचार को एक वाक्य में संक्षेप में प्रस्तुत करने में सक्षम होना चाहिए। यदि यह संभव नहीं है और आपको मुख्य विचार समझाने के लिए और वाक्यों की आवश्यकता है, तो आपको बस अधिक पैराग्राफ का उपयोग करने की आवश्यकता है।आपको अपने पैराग्राफ को Passage indexing के लिए भी ऑप्टिमाइज़ करना चाहिए।

उचित Heading  भी आपके ब्लॉग रीडर्स  को यह समझने में मदद करते हैं कि आपके Text  का एक Specific  हिस्सा किस बारे में है। यदि आप चाहते हैं कि लोग आपके articles के माध्यम से अपना रास्ता खोजें, तो उनका नेतृत्व (guidance) करने के लिए SubHeading का उपयोग करें, उन्हें अपने Post को स्कैन करने में मदद करें, और अपने article की structure को स्पष्ट करें। वे न केवल पठनीयता के लिए, बल्कि एसईओ के लिए भी महत्वपूर्ण हैं। इसीलिए मैं आपके कीवर्ड को कुछ उपखंडों में उपयोग करने की सलाह दूंगा। मैं उनमें से कुछ का मतलब है, के रूप में हर शीर्षक में अपने खोजशब्द का उपयोग कर Text  भद्दा और Unnatural  कर देगा। यह लोगों को आगे पढ़ने से रोक देगा।

9. Meta Description का प्रयोग करें।

ब्लॉग पोस्ट को पब्लिश करने से पहले Meta Description add करें इससे सर्च इंजन को पता चलेगा कि आपका आर्टिकल किस टॉपिक पर लिखा गया है और सर्च इंजन आपकी आर्टिकल को सही पोजीशन पर रैंकिंग देगा।

10. Over optimization से दूर रहे।

SEO optimized पोस्ट लिखना अच्छी बात है लेकिन अगर आप हद से ज्यादा Seo करेंगे तो आपकी रैंकिंग पर प्रभाव पड़ेगा, इससे बचने के लिए नीचे मैंने कुछ तरीके बताए हैं उनका पालन करें।

  • कीवर्ड को वहीं प्लेस करें जहां पर जरूरत हो और ज्यादा केवट प्लेस ना करें इनसे आपका आर्टिकल पढ़ने योग्य नहीं रहेगा।
  • ज्यादा इंटरनल लिंकिंग ना करें ऐसा अभी करें जब जरूरत हो और जहां समझ (Sense) आए।

निष्कर्ष

मैंने इस Post में आपको बताया है कि “SEO freindly content कैसे लिखते हैं” और आप comment करके बताएं कि आपको ये पोस्ट कैसा लगा। अगर आपको इससे संबंधित कोई समस्या है और आप सुझाव देना चाहते हैं तो नीचे टिप्पणी करें।